कावड़ यात्रा को लेकर उपायुक्त जितेंद्र यादव ने ली अधिकारियों की मीटिंग

श्रावण माह के मद्देनजर फरीदाबाद में कांवड़ियों की सुविधा के लिए उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि श्रावण माह के दौरान ट्रैफिक को सामान्य बनाए रखने के लिए भी अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

कावड़ यात्रा को लेकर उपायुक्त जितेंद्र यादव ने ली अधिकारियों की मीटिंग

फरीदाबाद (हिंदुस्तान तहलका): श्रावण माह के मद्देनजर फरीदाबाद में कांवड़ियों की सुविधा के लिए उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि श्रावण माह के दौरान ट्रैफिक को सामान्य बनाए रखने के लिए भी अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर-2 दिल्ली-मथुरा रोड पर ट्रैफिक व्यवस्था अधिक होती है। इसके अलावा राष्ट्रीय मार्ग पर कोई भी कांवड़ शिविर नहीं लगाया जाएगा। उन्होंने एमसीएफ, अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्र के मुख्य मार्गों, जहां से जल लेकर कावड़िए अपने गंतव्य स्थानों तक जाते हैं, उनकी उचित मरम्मत सुनिश्चित करें।

उन्होंने आगे कहा की कांवड़ शिविर के दोनों तरफ लाइटों का प्रबंध, साफ़-सफाई, शिवरों को सेनेटाइज्ड तथा सीसीटीवी का भी प्रबंध हो। कांवड़ शिविर मुख्य सड़क से कम-से-कम 5 मीटर की दूरी पर होना चाहिए। इसके साथ ही कांवड़ शिविर में पीछे इतनी जगह हो कि वहां कांवड़ रखा जा सके। उन्होंने कहा कि कावड़ियों के स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए चिन्हित जगाओ पर एम्बुलेंस की वयवस्था हो। चिन्हित जगहों पर जहाँ सड़क में जलभराव होते हों, वहां टैंकर खड़े करें ताकि जलभराव को रोका जा सके। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने संबंधित थाना प्रबंधकों को भी निर्देश दिए कि जहां ट्रैफिक ज्यादा तेज हो वहां बैरिकेड लगाए जाएं। कांवड़िए भी अपने साथ गैस सिलेंडर, हॉकी, लाठी, डंडा, बेसबॉल बैट आदि नहीं रख सकेंगे।

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि आउटर रोड बाईपास से कावड़ियों का आवागमन ज्यादा होता है, इसलिए संबंधित विभागों के अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में उस सड़क की मरम्मत कराना सुनिश्चित करें, जिससे कांवड़ियों को परेशानी का सामना न करना पड़े। बैठक में एडीसी मोह्हमद इमरान रजा, सीटीएम नसीब कुमार, तहसीलदार नेहा सहारन, तहसीलदार भूमिका लाम्बा, डीएचबीवीएन से उर्मिला ग्रेवाल सहित कई अधिकारीगण मौजूद रहे।