Saturday, April 13, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदिल्ली NCRगुरूग्रामविद्यामंदिर क्लासेज के गुरुग्राम सेंटर के छात्र का कमाल, जेईई मेन 2024...

विद्यामंदिर क्लासेज के गुरुग्राम सेंटर के छात्र का कमाल, जेईई मेन 2024 सेशन-1 में 100 परसेंटाइल के साथ पाई टॉप पोजिशन

हिन्दुस्तान तहलका / गीतिका

गुरुग्राम – विद्यामंदिर क्लासेज गुरुग्राम सेंटर के छात्र शिवांश नायर ने जेईई मेन 2024 सेशन-1 में कमाल कर दिया। हाल ही में घोषित रिजल्ट में शिवांश टॉप स्कोरर बनकर उभरे हैं और उन्होंने 100 परसेंटाइल हासिल किए हैं। यह उपलब्धि शिवांश की काबिलियत को तो दर्शाती ही है, साथ ही वीएमसी गुरुग्राम सेंटर के तनाव मुक्त माहौल में छात्रों को जो गाइडेंस मिलता है, उसका भी ये एक बेहतरीन उदाहरण है।

वीएमसी गुरुग्राम में शिवांश 4 ईयर क्लासरूम प्रोग्राम के छात्र रहे हैं। शुरुआत में कक्षा 9 और 10 में कोविंद -19 महामारी के चुनौतीपूर्ण समय के दौरान ऑनलाइन मोड में उन्होंने वीएमसी से पढ़ाई की। इसके बाद शिवांश 2022-23 में गुरुग्राम सेंटर में ऑफलाइन प्रोग्राम में आ गए। उन्होंने शनिवार और रविवार को वीकैंड बैच के साथ यहां स्टडी की। हालात जैसे भी रहे हों, शिवांश अपनी पढ़ाई के प्रति हमेशा समर्पित और प्रतिबद्ध रहे।

जब शिवांश पढ़ाई कर रहे थे तब कोविड ने पूरे देश को परेशान कर दिया। उनका परिवार भी इसकी चपेट में आया, जिसके चलते वो वीएमसी में पहले दो टेस्ट से चूक गए। उनकी अच्छी परफॉर्मेंस को देखते हुए बाद में उन्हें इलुमिनाती बैच में रखा गया। विद्यामंदिर क्लासेज के को-फाउंडर बृज मोहन ने शिवांश की उपलब्धियों पर प्राउड फील करते हुए कहा कि शिवांश एक बहुत ही डेडिकेटेड और ईमानदार छात्र रहे हैं। सब्जेक्ट्स में महारत हासिल करने के प्रति उनकी प्रतिबद्धता कमाल है। वो अपनी क्वेरी को बार-बार उठाते हैं और विषय को ढंग से समझते हैं। वीएमसी गुरुग्राम का टीचिंग मॉड्यूल ऐसे छात्रों को पूरी फ्रीडम भी देता है। शिवांश हमारी फैकल्टी बहुत आदर सकते हैं।

शिवांश नायर ने 100 परसेंटाइल पाते हुए शानदार रिजल्ट हासिल किया है। फिजिक्स में 100, मैथ्स में 100 और केमिस्ट्री में उनका स्कोर 95 रहा है। जेईई मेन में अपने इस बेहतरीन प्रदर्शन के अलावा, शिवांश ने ओलंपियाड में भी अच्छा रिजल्ट पाया है। 216 में से 204 स्कोर के साथ शिवांश ने नेशनल स्टैंडर्ड एग्जामिनेशन इन फिजिक्स (एनएसईपी) में टॉप 10 में रैंक हासिल की है। उन्होंने एनएसईसी, प्री-आरएमओ, आरएमओ और एस्ट्रोनॉमी ओलंपियाड में भी क्वालीफाई किया है। शिवांश की ये सक्सेस स्टोरी जेईई में दम दिखाने के इच्छुक छात्रों के लिए एक प्रेरणा है और साथ ही उनकी कामयाबी विद्यामंदिर क्लासेज के शानदार गाइडेंस का एक प्रमाण भी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »