Thursday, April 25, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदिल्ली NCRफरीदाबादHaryana News: मार्डन विद्या मंदिर स्कूल बघौला का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया

Haryana News: मार्डन विद्या मंदिर स्कूल बघौला का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया

 ⇒ सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों ने बांधा समा

 ⇒ और जब देशभक्ति के गीतों पर पूरा माहौल देशभक्तिमय हुआ

हिंदुस्तान तहलका /सोनम सिंह 

पृथला / फरीदाबाद बघौला गांव में रविवार को मॉर्डन विद्या मंदिर स्कूल (Modern Vidya Mandir School) का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर पृथला विधायक नयनपाल रावत (Prithla MLA Nayanpal Rawat) ने प्रतिभाशाली विधार्थियों को पुरुस्कृत किया। इस मौके पर उन्होंने शिक्षकों से कहा कि वे बच्चों को संस्कारपरक शिक्षा देने में अहम भूमिका निभाएं। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि जीवन में गुरु की अहम भूमिका होती है, जो विधार्थी गुरू को भगवान व स्कूल को मन्दिर समझेगा, वह जीवन में सबसे अधिक तरक्की करेगा।

कार्यक्रम की शुरूआत बसपा नेता सुरेंद्र वशिष्ठ (BSP leader Surendra Vashishtha) ने मंत्रोचारण के बीच दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस मौके पर ब्लॉक समिति के चेयरमैन रामनिवास तंवर के अलावा स्कूल के प्रिंसिपल जुगल किशोर वशिष्ठ, कमल नम्बरदार,सरपंच मास्टर तुलाराम, सरपंच देवली विजय राम, मीरापुर के सरपंच कंवरपाल, दूधौला से सुनील सरपंच के अलावा शिक्षाविद सतबीर पटेल, रामकुमार शर्मा, सुरेश शास्त्री, राजबीर, राजेंद्र सिंह समेत इलाके के गणमान्य लोग मौजूद थे।

मंच संचालक मोहन शास्त्री ने किया। स्कूल के प्रिंसिंपल जुगल किशोर वशिष्ठ ने अतिथियों का पगडी व फूल मालाओं से स्वागत किया। कार्यक्रम के दौरान स्कूली बच्चों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान छोटा बच्चा जाने के हमको ना समझाना रे, स्कूल चलें हम, राम युग की है फिर बारी, देशों में देश भारत, भारत में हरियाणा, आयो रे आयो रे, रंगीलो मेरो ढोलना, मैं निकला गड्डी लेके, फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी, तेरी मेरी कट्टी हो जाएगी, हरियाणा नृत्य, होलिया उडे रे गुलाल गीत पर दर्शकगण मंत्रमुग्ध हो उठे। इसके अलावा देश भक्ति के गीत कर चले हम फिदा पर पूरा माहौल देशभक्ति में रंग गया। इसी तरह झांसी की रानी की नाटिका को दर्शकों ने खूब सराहा। इस मौके पर बसपा नेता सुरेंद्र वशिष्ठ ने कहा कि शिक्षक व अभिभावकों के समन्वय से बच्चा काफी विकास कर सकता है।

उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि वे दैनिक समय में से कुछ घंटे निकालकर एकांत में पढाई करें साथ ही महापुरुषों की जीवनी पढे। शिक्षा पाने के विकल्प बहुत हैं। विशिष्ट अतिथि रामनिवास तंवर ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों से बच्चों की प्रतिभा उभरकर सामने आती है। विद्यार्थी अपने जीवन का एक लक्ष्य निर्धारित करें। शिक्षाविद सतवीर पटेल ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि प्राईवेट स्कूल की मेहनत के चलते पलवल जिले का नाम शिक्षा के क्षेत्र में निरंतर आगे बढ रहा है। उन्होंने शिक्षक व अभिभावकों से कहा कि वे बच्चों को ज्ञानपरक शिक्षा देने में अहम भूमिका निभाएं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »