Thursday, April 25, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदिल्ली NCRफरीदाबादमां के साथ नवजात शिशु को मिलेगा वीआईपी पैटर्न पर उपचार

मां के साथ नवजात शिशु को मिलेगा वीआईपी पैटर्न पर उपचार

-जिला प्रशासन की पहल पर जनहित में हुआ एमएनसीयू का निर्माण

हिन्दुस्तान तहलका / दीपा राणा

फरीदाबाद – डीसी विक्रम सिंह ने आज बुधवार को जनहित के मद्देनजर  स्थानीय सैक्टर-30 में एफआरयू-1 में बने एमएनसीयू वार्ड (मदर न्यू बोर्न केयर यूनिट ) का लोकार्पण किया। डीसी विक्रम सिंह ने इस पहल की सराहना भी की है। वहीं एमएनसीयू वार्ड के निर्माण को लेकर निर्माण संस्था सीईएल की टीम के साथ बैठक हुई है। इस पहल को क्रियान्वित करने में डॉ विनय गुप्ता सीविल सर्जन, डॉ. रचना मिश्रा सीविल सर्जन और उनकी पूरी टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही है साथ ही इसका अनुदान नेटवेब फाउंडेशन के सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार सीएसआर द्वारा किया गया है। यह सुविधा मां और शिशुओं की देखभाल के लिए समर्पित कर दी गई है।

डीसी विक्रम सिंह ने बताया कि जचाओं और बच्चों को मदर न्यू बोर्न केयर यूनिट (एमएनसीयू) वार्ड सुविधाएं प्रदान की जाएगी। मदर न्यू बोर्न केयर यूनिट (एमएनसीयू) वार्ड निर्माण में कम्यूनिटी एम्पावरमेंट लैब (सीईएल) का वैज्ञानिक एंव तकनीकी सहयोग लिया गया है। सीईएल द्वारा  एमएनसीयू वार्ड संचालन के लिए स्टाफ नर्स को प्रशिक्षित भी किया गया है। नव निर्माण एमएनसीयू वार्ड में कम वजन के नवजात शिशु को मां के साथ केएमसी देते हुए बेहतर तरीके से उपचार किया जाएगा। इस में प्रसव के बाद नवजात शिशुओं को उनकी मां के साथ इस यूनिट में भर्ती कर सेहत पर नजर रखी जाएगी। इससे प्रसव के बाद मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी आएगी एमएनसीयू में जच्चा और बच्चा दोनो के इलाज की सभी सुविधाएं होगी। इस में बच्चों का पूरा डाटा टैब पर रखा जाएगा। अस्पताल से छुटटी के बाद भी बच्चों का अपडेट लिया जाएगा ताकि आने वाली पीढ़ी के स्वास्थ्य पूरा ध्यान रखा जा सकें।

जनहित की एक और कड़ी में जिला फरीदाबाद में नवजात शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के उद्देश्य से डीसी विक्रम सिंह के निर्देश पर सैक्टर-30 के एफआरयू-1 में 6 मदर न्यू बोर्न केयर यूनिट (एमएनसीयू) वार्ड  का आज उद्घाटन किया गया। जिसमें एफआरयू-1, सेक्टर 30, एफ आरयू-2 बल्लभगढ़, सहित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र- सीएचआर खेरी कलां, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र / सीएचआर तिगांव, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र / सीएचआर कुराली और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र / सीएचआर पाली भी शामिल हैं। इसके साथ ही डीसी विक्रम सिंह ने वहां आये लोगों से बातचीत कर फर्स्ट रेफरल यूनिट में हो रहे कार्य की जानकारी ली व अधिकारियों को निर्देश दिए कि इलाज से लिए आने वाले मरीजों को किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।

लोकार्पण समारोह में एडीसी आनन्द शर्मा, डॉ विनय गुप्ता सीविल सर्जन, डॉ. रचना मिश्रा सीविल सर्जन और उनकी पूरी टीम सहित अन्य चिकित्सा अधिकारी और सीएसआर पार्टनर के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »