Tuesday, February 27, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदिल्ली NCR37वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्त-शिल्प मेला की शाम रही हरयाणवी कलाकारों के नाम

37वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्त-शिल्प मेला की शाम रही हरयाणवी कलाकारों के नाम

हिन्दुस्तान तहलका / दीपा राणा

 सूरजकुंड / फरीदाबाद

37वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय शिल्प मेला की गुरुवार की शाम हरियाणवी कलाकारों के नाम रही। बड़ी चौपाल पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के पब्लिसीटी एडवाईजर गजेन्द्र फौगाट और हरियाणवी कला के पद्मश्री कलाकार महाबीर गुड्डू ने सुंदर गीतों की प्रस्तुति से रंग जमाया। उन्होंने रंगारंग सांस्कृतिक संध्या के दौरान एक ओर जहां हरियाणवी गीतों में भगवान शिव के भक्तियुक्त गीतों से चौपाल का माहौल भक्तिमय बना दिया। भक्तियुक्त गीतों को सुनकर दर्शक भक्ति के रस में स्नान करते हुए नजर आए। कलाकारों ने इंंडियन और वेस्टर्न वाद्य यंत्रों के जरिए से सूरजकुंड मेले को पूरी तरह भक्ति के रस में डूबो दिया। वहीं दूसरी ओर वंदे मातरम के उद्घोष के साथ चौपाल को देशभक्ति रंग में रंग दिया।

Surajkund Mela, Faridabad
https://fb.watch/q5BXWyy3ae/

महावीर सिंह गुड्डू की तू राजा की राज दुलारी मैं सिर्फ लंगोटे आला सू जैसे भक्तिमय गीतों की प्रस्तुति देखकर चौपाल पर बैठे पर्यटक भाव विभोर हो उठे। वहीं दूसरी ओर महावीर गुड्डू  ने छोरी गावै-छोरी गावै गीत सुरीले, आ सुण ले मेरा ठिकाणा रे-भारत में हरियाणा, सौ-सौ पड़े मुसीबत बेटा मर्द जवान में-भगत सिंह कदे जी घबरा जा तेरा बंद मकान में, मेरा रंग दे बंसती चोला जैसे सुंदर देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति भी दी।

 

Surajkund Crafts Mela
https://fb.watch/q5Caew_Ptq/

गजेंद्र फौगाट द्वारा राम घट घट में हैं-राम कण कण में हैं, मंगल भवन अमंगल हारी द्रवहु सो दशरथ अजिर बिहारी, मेरी झोंपडी के भाग आज खुल जाएंगे-राम आइंगे, अवध में आएंगे श्रीराम-अयोध्या आएंगे श्रीराम जैसे गीतों के साथ-साथ रामचरितमानस के विभिन्न चौपाइयों को संगीतमय रूप से गाकर चौपाल पर बैठे दर्शकों को भक्ति रस में डूबो दिया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments