Thursday, May 23, 2024
No menu items!
spot_img
Homeब्रेकिंगतारीख 13 मई... 16 साल पहले हुए थे 8 बम धमाके, अब...

तारीख 13 मई… 16 साल पहले हुए थे 8 बम धमाके, अब फिर उसी दिन मिली स्कूलों को उड़ाने की धमकी!

-37 स्कूलों को मेल करके दी गई थी धमकी

हिंदुस्तान तहलका/ दीपा राणा

जयपुर। दिल्ली के बाद जयपुर में भी प्राइवेट स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी के बाद हड़कंप मच गया। यह धमकी ई-मेल के जरिए दी गई जिसके बाद स्कूलों को खाली करवा लिया गया। सबसे पहले धमकी भरा मेल एमपीएस स्कूल के प्रिंसिपल को मिला जिसके बाद तुरंत उन्होंने पुलिस को  सूचना दी गई।  मौके पर पुलिस और एटीएस कमांडो ने मोर्चा संभाला ही था कि पता चला जयपुर में ही माहेश्वरी स्कूल, विद्या आश्रम, सेंट टेरेसा सहित करीब 44 स्कूलों को भी ऐसा मेल भेजा गया है। धमकी भरे ई-मेल में लिखा है, ‘स्कूल की बिल्डिंग में बम है, जो कि कभी भी फट सकता है’. सुबह-सुबह इस धमकी भरे मेल को पढ़ होश उड़ गए। इसके बाद पुलिस ने सभी स्कूलों को खाली करवा सभी बच्चों और शिक्षकों को सुरक्षित जगह ले जाया गया। वहीं, बम निरोधक दस्ते ने डॉग स्क्वायड टीम के साथ स्कूलों में घंटों सर्च ऑपरेशन चलाया लेकिन अभी तक किसी स्कूल में कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है।
ई-मेल भेजने वाले की पहचान की कोशिश जा रही है। हालांकि पुलिस की अब तक की जांच में कोई बमनुमा चीज तक नहीं मिली है। जयपुर पुलिस कमिश्नर बीजू जॉर्ज जोसेफ ने बताया कि राजधानी जयपुर के नामी माहेश्वरी स्कूल तिलक नगर, विद्या आश्रम स्कूल, ओटीएस चौराहा, सेंट टेरेसा स्कूल, निवारू रोड, महर्षि पीजी कॉलेज, टोंक रोड, सांगानेर एमजीपीएस, विद्याधर नगर मालवीय कान्वेंट स्कूल, मालवीय नगर वॉरेन एकेडमी, महेश नगर संस्कार स्कूल, वैशाली नगर जयपुरिया स्कूल, बजाज नगर माहेश्वरी पब्लिक स्कूल, प्रताप नगर, द पैलेस स्कूल, जय श्री पेरिवाल स्कूल, चित्रकूट में सोमवार को बम से उड़ाने का धमकी भरा ईमेल भेजा गया है। धमकी मिलने के बाद बम निरोधक दस्ता, डॉग स्क्वायड के साथ पुलिस टीमें स्कूलों में पहुंची। छात्रों और स्टाफ को स्कूल परिसर से बाहर निकाल कर सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया है। ई-मेल भेजने वाले की पहचान करने की कोशिश कर रही है।
गौरतलब है कि आज ही के दिन 13 मई 2008 की शाम शहर के परकोटा क्षेत्र में सिलसिलेवार तरीके से आतंकियों ने दो मंदिरों सहित छह जगहों पर आठ बम धमाके किए थे। इन धमाकों ने 71 लोगों की जान चली गई थी और 181 लोग जख्मी हुए थे। ऐसे में जयपुर बम ब्लास्ट की आज 17वीं बरसी भी है और 2024 में भी उन धमाकों के ज़ख्म भरे नहीं हैं। इसी बीच एक बार फिर से जयपुर को दहलाने की धमकी और स्कूलों में नौनिहालों को निशाने बनाने के ईमेल के बाद सभी सहमे हुए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »