Thursday, July 18, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदिल्ली NCRफरीदाबादFaridabad News: प्री मानसून;रात में बरसे राम ; दिनभर तैरती रही स्मार्ट...

Faridabad News: प्री मानसून;रात में बरसे राम ; दिनभर तैरती रही स्मार्ट सिटी, जलभराव से जाम में रेंगता रहा शहर  

-ढाई घंटे की बारिश से सड़कें हुई जलमग्न
-वाहनों की रफ्तार पर लगी ब्रेक
-ऑटो चालकों ने उठायाजलभराव का खूब फायदा

हिंदुस्तान तहलका / पंकज सविता
फरीदाबाद। प्री मानसून की बारिश हुई सुबह तड़के फिर दिनभर स्मार्ट सिटी फरीदाबाद तैरता रहा। सड़कों पर जलभराव से हुए ट्रैफिक जाम में शहर रेंगता रहा। हरियाणा का फरीदाबाद जो स्मार्ट सिटी की लिस्ट में शामिल है। कलपुर्जों के इस शहर में मानसून आने से पहले भारी बारिश क्या हुई, हर तरफ आफत आ गई। फरीदाबाद में महज ढाई घंटे की बारिश के बाद सड़कें तालाब बन गई। वाहनों की लंबी कतार में घंटो फंसे लोग रेंगते हुए अपने गंतव्य पर देरी से पहुंचे। बल्लबगढ़ से ओल्ड फरीदाबाद तक राष्ट्रीय राज्य मार्ग पर लंबा जाम लग गया। अजरौंदा मेट्रो स्टेशन, बाटा मेट्रो स्टेशन, मुजेसर एस्कॉर्ट मेट्रो स्टेशन, सीही मेट्रो स्टेशन के पास ट्रैफिक जाम की स्थिति ने लोंगो की सांसे अटका दी। यहां सड़कों पर जलजमाव की स्थिति में सड़कों पर लंबे जाम में घंटो वाहन फंसे रहे। वहीं खेत-खलियान के लिए यह बारिश रामबाण सिद्ध होगी। धान की रोपाई की तैयारी में जुटे किसानों के लिए यह बारिश खुशियों की सौगात जैसी रही।

डूब गई कई गाड़ियां

शहर कोई भी सेक्टर जलजमाव से बच नहीं पाया। शहर में पानी निकासी व्यवस्था खराब होने से पूरा शहर तालाब बन गया। सड़कों पर पानी अधिक होने के कारण लोगों की गाड़ियां खराब हो गई। शहर के अंडरपास में पानी भरने से कई सेक्टर राजमार्ग से कट गए। गाड़ियां डूब गई, उन्हें मुश्किल से निकाला गया। चौक-चौराहों पर जलभराव होने से वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया। इससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। शहर के कई इलाकों की गलियां और सड़कें पानी से लबालब हो गई। दफ्तर आने-जाने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बारिश से लोगों को गर्मी से राहत तो मिल गई, मगर परेशानी भी बढ़ गई है। बल्लभगढ़ से लेकर ओल्ड फरीदाबाद तक नेशनल हाईवे जाम हो गया। वाहनों की रफ्तार भी धीमी हो गई।

हर तरफ भरा बारिश का पानी
शुक्रवार तड़के फरीदाबाद में झमाझम बारिश हुई। इससे शहर की यातायात व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई। नेशनल हाईवे पर बल्लभगढ़ से गुड-ईयर चौक, गुड-ईयर चौक से बाटा चौक, अजरौंद चौक, सेक्टर-7-8 चौक और बल्लभगढ़ चौक, सेक्टर-22, 23, सेक्टर-15ए में देखने को मिली। इसके अलावा सेक्टर-7-8, 9, सेक्टर-16 के विश्राम गृह वाली सड़क, सेक्टर-11 व 12 की सड़क, सेक्टर, छह, सात, आठ, नौ, 10, 10-11 की डिवाइडिंग सड़क, सेक्टर-15, 16, 17, 18, 19, 21, 22, 23, 28, 29, 30, 31, 35  व 37 की मुख्य सड़कें, बीके-हार्डवेयर चौक, रेलवे रोड, बल्लभगढ़ बस अड्डा पानी से भर गया है बाटा चौक, अजरौंद चौक में सड़के जलमग्न हो गई। सबसे ज्यादा खराब हालत डबुआ कॉलोनी, जनता कॉलोनी, नगला इंक्लेव, पर्वतिया कॉलोनी, 60 फुट रोड, एयरफोर्स रोड, गुड ईयर चौक सेक्टर-3 से तिगांव रोड, सौ फुटा रोड, हरफली गांव और बल्लभगढ़ बस अड्डे में देखने को मिली। सड़कों पर जगह-जगह पानी भरने से लोगों को आवाजाही में काफी परेशानी हुई। जलजमाव के चलते एनएचसी रेलवे अंडरपास और ओल्ड फरीदाबाद रेलवे अंडरपास को भी बंद किया गया है। एनएचसी रेलवे अंडरपास में दो गाड़ियां फंसी। राजा नाहर सिंह बस अड्डा दो से तीन फुट पानी में डूब गया। इसके चलते ना तो बसों को पानी से निकाला जा सका।

ऑटो चालकों ने किया किनारा
राष्ट्रीय राजमार्ग समेत डबुआ 60 फुट रोड और एनआईटी क्षेत्र में जलभराव का ऑटो चालकों ने भी खूब फायदा उठाया। यात्रियों से मनमाना किराया वसूला। कम से कम 20 रुपये किराये की जगह 40 से 50 रुपये प्रति सवारी वसूले गए। यही स्थिति बल्लभगढ़ में देखने को मिली।

सभी दावे हो जाते फेल
शहर में निगम, फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड सहित चार बड़ी सिविल एजेंसियां हैं। हर साल बारिश से पहले सिविक एजेंसियों द्वारा जलभराव से निपटने के बड़े-बड़े दावे किए जाते हैं। नाले और सीवर की सफाई पर करोड़ों रुपये खर्च किए जाते हैं, लेकिन कुछ देर की बारिश में ही सभी दावे धुल जाते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »