Monday, April 22, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदिल्ली NCRगुरूग्रामHaryana News: मुख्यमंत्री ने स्तन कैंसर लेकर 'सवेरा' कार्यक्रम की शुरुआत करी

Haryana News: मुख्यमंत्री ने स्तन कैंसर लेकर ‘सवेरा’ कार्यक्रम की शुरुआत करी

‘सवेरा’ अद्भुत कार्यक्रम देश में पहली बार शुरू हो रहा है – मुख्यमंत्री

हिंदुस्तान तहलका / गीतिका

गुरूग्राम – हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरुग्राम में महिलाओं में बढ़ रहे स्तन कैंसर की शीघ्र जांच और पता लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से मेदांता फाउंडेशन द्वारा शुरू किए जा रहे ‘सवेरा’ कार्यक्रम की शुरुआत की। उन्होंने बताया कि यह अद्भुत कार्यक्रम देश में पहली बार शुरू हो रहा है और इस कार्यकम के तहत महिलाओं में स्तन कैंसर का शुरुआती स्तर पर ही पता लगाया जाएगा। इसके अलावा, उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम की सफलता के उपरांत इसे राज्य के अन्य जिलों में भी विस्तारित किया जाएगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आज स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से मेदाता फाउंडेशन द्वारा सवेरा कार्यकम की अनूठी शुरूआत की गई है। इस कार्यकम को पहले चरण में गुरुग्राम के सैक्टर-10 के सिविल अस्पताल, सैक्टर-31 के पोलीक्लिनिक और वजीराबाद के प्राथमिक सामुदायिक केन्द्र में संचालित किया जाएगा। इस कार्यकम/अभियान के विस्तार के लिए जल्द ही स्वास्थ्य विभाग और मेदाता फाउंडेशन के बीच एक समझौता भी होगा।

स्तन कैंसर की जांच के लिए नेत्रहीन महिलाओं / बहनों की ली जाएगी सहायता – मुख्यमंत्री

मनोहर लाल ने कहा कि कैंसर एक ऐसा रोग है जिसकी पहचान (डायग्नोस) देर से होती है जिसके अतर्गत कभी स्टेज-2, स्टेज-3 और कभी-कभी स्टेज-4 तक कैंसर की पहचान की होती है और यह शरीर के अलग-अलग हिस्सों में अपना प्रभाव डालता है। इसी प्रकार, स्तन कैंसर भी उनमें से एक कैंसर है जोकि ज्यादातर शहरों में रहने वाली महिलाओं में पनपता है। उन्होंने कहा कि देशभर में लगभग 90 हजार महिलाएं स्तन कैंसर के कारण प्रति वर्ष अपनी जान गवां देती हैं। लेकिन आज यहां शुरू किए गए ‘सवेरा’ कार्यकम के अतर्गत स्तन कैंसर की जांच के लिए नेत्रहीन महिलाओं / बहनों की सहायता ली जाएगी। जोकि बहुत ही सराहनीय है। उन्होंने उपस्थित लोगों को इस संबंध में उदाहरण देते हुए कहा कि फरीदाबाद के गांव सिहीं में जन्में सूरदास भले ही दृष्टिहीन थे। परन्तु वे बहुत ही बड़े कवि हुए और उन्होंने समाज को दर्शन देने का काम किया तथा दिव्यांगता उनके कभी भी आड़े नहीं आई।

सरकार ने भी कैंसर के उपचार के लिए स्थापित किए संस्थान – मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने सरकार द्वारा कैंसर की रोकथाम के लिए उठाए जा रहे कदमों के अंतर्गत जानकारी सांझा करते हुए बताया कि जिला झज्जर में नेशनल कैंसर संस्थान- एम्स को स्थापित किया गया है जिसमें 1000 बिस्तर है। इसी प्रकार, उन्होंने बताया कि अंबाला जिला में कैंसर के मरीजों के उपचार के लिए अटल कैंसर केयर सेंटर स्थापित किया गया है और पीजीआईएमएम, रोहतक में कैंसर का उपचार किया जाता है तथा इस पर शोध भी किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने नारी शक्ति को आगे बढ़ाने का काम किया – पंकज साहनी

मेदांता के ग्रुप सीईओ एवं डायरेक्टर पंकज साहनी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने नारी शक्ति को आगे बढ़ाने का काम किया और इसी कड़ी में हम भी मुख्यमंत्री की दिशा अनुसार आगे बढ़ रहे है। उन्होंने बताया कि स्तन कैंसर के अधिकतर मामले विकसित चरण में सामने आते है। इसकी बढ़ती संख्या के कारण समय पर पहचान, निदान और इलाज अत्यधिक आवश्यक है। हमारी जिम्मेदारी है कि हम अपने मरीजों को खुद के स्वास्थ्य की देखभाल करने में समर्थ बनाएं। इसके लिए हम मेदांता में निरंतर नए तरीके अपनाते हैं। सवेरा अभियान इसी दिशा में उठाया गया कदम है। उन्होंने बताया कि भारत में छह साल पहले टैक्टाईल ब्रेस्ट एग्जामिनेशन’ (टीबीई) पद्धति शुरू होने के बाद दृष्टिबाधित महिलाओं को एनएबी इंडिया सेंटर फॉर ब्लाइंड वीमेन एंड डिसेबिलिटी स्टडीज़ में स्तन रोगों और उनके परीक्षण का सैद्धांतिक प्रशिक्षण दिया गया, जिसके बाद उन्हें मेदांता गुरुग्राम के ब्रेस्ट क्लिनिक में डॉ. कंचन कौर के मार्गदर्शन में तीन महीने तक क्लिनिकल इंटर्नशिप प्रदान की गई।

यह रहे उपस्थित

इस मौके पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आलोक मित्तल, गुरुग्राम के पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा सहित जिला प्रशासन और मेदांता संस्थान के वरिष्ठ अधिकारी और पदाधिकारी के साथ साथ मेडिकल वर्ल्ड के दिग्गज भी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »