Friday, July 19, 2024
No menu items!
spot_img
Homeदिल्ली NCRPM मोदी ने 3 सेमीकंडक्टर फैसिलिटी की नींव रखी:मोदी बोले- इससे भारत...

PM मोदी ने 3 सेमीकंडक्टर फैसिलिटी की नींव रखी:मोदी बोले- इससे भारत को सेमीकंडक्टर का ग्लोबल हब बनने में मदद मिलेगी

हिंदुस्तान तहलका , एजेंसी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लगभग 1.25 लाख करोड़ रुपए की तीन सेमीकंडक्टर फैसिलिटीज की नींव रखी। इन मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटीज में से एक असम के मोरिगांव और दो गुजरात के धोलेरा और सानंद में स्थापित होंगी।इससे भारत को सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग के लिए ग्लोबल हब बनने में मदद मिलेगी। PM मोदी ने ‘इंडियाज़ टेकेड: चिप्स फॉर विकसित भारत’ कार्यक्रम में इन सेमीकंडक्टर फैसिलिटीज की नींव रखी है। इस के कार्यक्रम में ताइवान के लीडर्स भी वर्चुअली जुड़े थे।PM मोदी ने कहा कि आज एक ऐतिहासिक दिन है। आज, हम इतिहास भी लिख रहे हैं और उज्ज्वल भविष्य की ओर मजबूत कदम उठा रहे हैं। 21वीं सदी तकनीक आधारित सदी है, जिसकी कल्पना चिप्स के बिना नहीं की जा सकती।पिछले महीने केंद्रीय कैबिनेट ने तीन सेमीकंडक्टर यूनिट की स्थापना की मंजूरी दी थी। तीनों फैसिलिटीज की मैन्युफैक्चरिंग का काम 100 दिनों के अंदर काम शुरू होगा।

प्रधानमंत्री बोले- मेड इन इंडिया चिप भारत को आत्मनिर्भर बनाएगी

  • ‘मेड इन इंडिया चिप भारत को आत्मनिर्भरता की तरफ ले जाएगी। चिप मैन्युफेक्चरिंग सिर्फ एक इंडस्ट्री नहीं है, ये विकास का वो दरवाजा खोलती है, जो असीम संभावनाओं से भरा है। इस सेक्टर से भारत में रोजगार के नए अवसर बनने वाले हैं।’
  • ‘आज युवा देख रहे हैं कि भारत किस तरह आत्मनिर्भरता के लिए, ग्लोबल सप्लाई चेन में अपनी उपस्थिति के लिए चौतरफा काम कर रहा है। इन प्रयासों से उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा और आत्मविश्वास से भरा युवा कहीं भी हो, वो अपने देश का भाग्य बदल देता है।’
  • ‘हम एक तरफ देश में तेजी से गरीबी कम कर रहे हैं और दूसरी ओर भारत में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहे हैं, देश को आत्मनिर्भर भी बना रहे हैं। सिर्फ 2024 में ही अब तक 12 लाख करोड़ रुपए की योजना का लोकार्पण-शिलान्यास हो चुका है।’

    एन चंद्रशेखरन बोले- PM मोदी के विजन से ये काम हो रहा

    टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कहा, ‘मेड इन इंडिया सेमीकंडक्टर चिप की मैन्युफैक्चरिंग PM मोदी के विजन से पूरी हो रही है। कोरोना के समय हमने इसकी कमी को ज्यादा महसूस किया। यह सभी डिजिटल प्रोडक्ट के लिए फाउंडेशनल इंडस्ट्री है।’टाटा संस के चेयरमैन ने कहा, ‘हम इस यात्रा में 50,000 नौकरियां पैदा करेंगे और यह सिर्फ एक शुरुआत है। आज सेमीकंडक्टर बनाने की हमारी यात्रा शुरू हो गई है। पहली बार भारत के पास भारत में चिप्स की मांग को हल करने की क्षमता होगी।’

    सेमीकंडक्टर चिप क्या होती है?

    सेमीकंडक्टर चिप सिलिकॉन से बनी होती है और सर्किट में इलेक्ट्रिसिटी कंट्रोल करने के काम आती है। ये चिप एक दिमाग की तरह इन गैजेट्स को ऑपरेट करने में मदद करती है। इसके बिना हर एक इलेक्ट्रॉनिक आइटम अधूरा है। कंप्यूटर, लैपटॉप, कार, वॉशिंग मशीन, ATM, अस्पतालों की मशीन से लेकर हाथ में मौजूद स्मार्टफोन तक सेमीकंडक्टर चिप पर ही काम करते हैं।

    कैसे काम करता है सेमीकंडक्टर?

    ये चिप इलेक्ट्रॉनिक आइटम को ऑटोमैटिकली ऑपरेट करने में मदद करती है। उदाहरण के लिए, स्मार्ट वॉशिंग मशीन में कपड़े पूरी तरह धुलने के बाद ऑटोमैटिक मशीन बंद हो जाती है। इसी तरह कार में जब आप सीट बेल्ट लगाना भूल जाते हैं, तो कार आपको अलर्ट देती है। ये सेमीकंडक्टर की मदद से ही होता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »