Saturday, April 13, 2024
No menu items!
spot_img
Homeउत्तर प्रदेशसंयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर मथुरा में किसानों का प्रदर्शन

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर मथुरा में किसानों का प्रदर्शन

हिंदुस्तान तहलका / शिवांगी चौधरी
मथुरा – संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर मथुरा में किसानों ने प्रदर्शन किया। अलग अलग संघटन से जुड़े किसानों का आरोप है कि केंद्र सरकार हठधर्मिता अपनाए हुए है और किसानों की मांगों को अनदेखा कर रही है। बुधवार को उत्तर प्रदेश किसान सभा के बैनर तले किसान नेता ब्रज तीर्थ विकास परिषद के कार्यालय पहुंचे। जहां उन्होंने नारेबाजी करते हुए एसडीएम आदेश कुमार को राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा। किसानों नेताओं का कहना है कि तीन काले कृषि कानून से खेती बचाने हेतु चुनाव के वक्त किसान की आमदनी दोगुनी करने,लाभकारी कीमत गारंटी कानून बनाने, बिजली विधेयक वापस लेने, कर्जा माफी और लखीमपुर खीरी घटना के दोषियों को सजा दिलाने के वादे किए थे, लेकिन आज तक किसानों की मांगों को पूरा नहीं किया गया।

ब्रज तीर्थ विकास परिषद के कार्यालय पर चल रही थी मीटिंग

किसान सभा के पदाधिकारी ब्रज तीर्थ विकास परिषद के कार्यालय पर प्रदर्शन करने से पहले कलेक्ट्रेट पहुंचे थे। जहां पता चला कि आगरा मंडल कमिश्नर ऋतु माहेश्वरी ब्रज तीर्थ विकास परिषद के ऑफिस पर अधिकारियों के साथ मीटिंग कर रही हैं। इसके बाद किसान सभा के पदाधिकारी प्रांतीय नेता एडवोकेट छीतर सिंह के नेतृत्व में ब्रज तीर्थ विकास परिषद के ऑफिस पहुंच गए।

किसान सभा की यह थी मांग

प्रदर्शन करने पहुंचे किसान सभा के नेताओं ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपते हुए मांग की कि एमएसपी गारंटी कानून बनाया जाए। किसानों को 300 यूनिट बिजली और सिंचाई के लिए फ्री बिजली दी जाए, किसानों के सभी कर्ज माफ किए जाएं,छाता शुगर मिल शुरू करने की तारीख घोषित हो,आवारा जानवरों की रोकथाम के लिए गौशाला खुलें और नुकसान का मुआवजा दिया जाए। वृद्ध विधवा, दिव्यांग किसानों को 10 हजार रूपए प्रति महीने पेंशन दी जाए। किसानों के फसल बीमा प्रीमियम सरकार द्वारा जमा कराई जाए और प्रत्येक नुकसान की भरपाई बीमा से हो।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »