Thursday, July 18, 2024
No menu items!
spot_img
HomeराजनीतिHaryana News: डीआरडीए नूंह के जिला स्तरीय किसान मेला में पहुंचे पूरे...

Haryana News: डीआरडीए नूंह के जिला स्तरीय किसान मेला में पहुंचे पूरे जिले से सैकड़ों किसान

हिंदुस्तान तहलका / राकेश वर्मा

नूंह – जिला बागवानी विभाग नूंह (District Horticulture Department Nuh) की तरफ से रविवार को डीआरडीए नूंह प्रांगण में पहली बार जिला स्तरीय किसान मेला 2023 – 24 का आयोजन किया गया। इस किसान मेले में उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। किसान मेले में किसानों ने भी बड़ी संख्या में भाग लेकर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। बागवानी विभाग नूंह द्वारा प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया। जिसे लोगों ने काफी सराहा। मुख्य अतिथि उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा ने भी प्रदर्शनी का अवलोकन किया। प्रदर्शनी में फूल, सब्जी फसलों तथा कृषि यंत्र खासतौर से किसानों के लिए रखे गए।

धीरेंद्र खड़गटा ने कहा कि नूंह जिले में फिरोजपुर झिरका, नगीना खंड में प्याज की खेती होती है। इसके साथ – साथ राजस्थान के पड़ोसी जिले अलवर में भी प्याज की खेती होती है। इसलिए नूंह जिले में एक बड़ी प्याज मंडी बनाने पर योजना पर काम चल रहा है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि कृषि विज्ञान केंद्र छपेड़ा में 10 एकड़ भूमि में बनकर जल्दी तैयार होने वाला है। इसमें एक एग्रीकल्चर का कॉलेज भी खोलने पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा किसानों के लिए कई परियोजनाओं पर काम किया जा रहा है।

आगामी 7 मार्च को मुख्यमंत्री मनोहर लाल मिकाड़ा योजना के अंतर्गत बहुत सारे बांधो में बरसाती पानी रोकने के लिए कार्यक्रम की शुरुआत करने जा रहे हैं ताकि बरसात के पानी को पहाड़ के साथ – साथ बनाए गए बांधों में इकट्ठा किया जा सके और उस पानी से सिंचाई की जा सके। उन्होंने कहा कि जिले के छोटे किसानों को 1000 कृषि यंत्र जिसमें छोटे कृषि यंत्र शामिल होंगे। उन्हें मुफ्त में देने की योजना पर भी काम किया जा रहा है। केएमपी के साथ – साथ सिंचाई का पानी लाने की योजना भी पाइपलाइन में है। कुल मिलाकर उपायुक्त नूंह ने किसानों की भलाई के लिए कई बड़ी घोषणाएं की।

जिला बागवानी अधिकारी डॉक्टर दीन मोहम्मद ने कहा कि दो दिवसीय किसान मेले का उद्घाटन उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा के द्वारा किया गया है जबकि समापन पुलिस कप्तान नरेंद्र सिंह बिजारनिया के द्वारा कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिस और किसानों के बीच में भी तालमेल अच्छा हो तथा कानून के बारे में किसानों को जानकारी मिल सके, इसलिए एसपी नरेंद्र सिंह बिजारनिया को समापन के अवसर पर अतिथि बुलाया है। कई किसानों ने कहा कि बागवानी विभाग का सराहनीय प्रयास है, किसानों के लिए पहली बार मेला लगाया गया है।

किसान खासकर युवा किसानों को प्रशिक्षण, शिक्षा के साथ – साथ अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए इस तरह के किसान मेलों में पूरी जानकारी मिलती है। उन्होंने कहा कि निश्चित ही किसानों की आमद पर इस तरह की खेती अपनाने का असर दिखाई देगा।

किसान महेंद्र पाल ने कहा कि नूंह जिले में सिंचाई के पानी की पहले ही कमी है और जो नहरों में पानी आ रहा है, वह बेहद दूषित है। जिससे जमीन खराब हो रही है। लिहाजा सरकार को इस तरफ भी ध्यान देने की जरूरत है ताकि यहां का किसान खुशहाल जीवन जी सके। खास बात यह रही कि किसानों को पर्याप्त जानकारी देने के लिए बागवानी विभाग के कृषि विशेषज्ञों के अलावा अवॉर्डी किसानों को भी इस किसान मेले में बुलाया गया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »