Saturday, July 20, 2024
No menu items!
spot_img
Homeशिक्षाHaryana News: सिटी कान्वेंट सेकेंडरी स्कूल का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया

Haryana News: सिटी कान्वेंट सेकेंडरी स्कूल का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया

हिंदुस्तान तहलका / गीतिका

गुरुग्राम – सिटी कॉन्वेंट सेकेंडरी स्कूल (City Convent Secondary School) राजीव कॉलोनी का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर मुख्य अतिथि वेद आर्य बतौर मुख्य अतिथि रूप में किया। इस दौरान छात्रों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर अतिथियों को मंत्रमुग्ध कर दिया। छात्रों ने भारतीय संस्कृति एवं सभी राज्यों के नृत्य पर संस्कृत झांकियां प्रस्तुत की।  मुख्य अतिथि ने बच्चों को उनकी प्रस्तुति के आधार पर पारितोषिक एवं मेडल देकर सम्मानित किया।

स्कूल के संस्थापक एवं निदेशक आर्य महेश चन्द्र ने कहा कि गरीब परिवारों के बच्चों को कम से कम फीस के साथ उत्तम शिक्षा प्रदान करना ही हमारा मुख्य  उद्देश्य है। इसके लिए हमारे दादा जी राव बलवंत के नाम से एक समिति पंजीकृत कराई गई।  जिसका नाम राव बलवंत सिंह लोक कल्याण समिति रखा गया।  जैसा नाम से ही विद्युत है कि समिति का उद्देश्य लोक कल्याण है। इसी उद्देश्य की पूर्ति करने के लिए आज राव बलवंत कल्याण समिति के अंतर्गत छह विद्यालय अलग-अलग क्षेत्र में गरीब बच्चों को को विद्या से प्रेरित कर रहे हैं।

स्कूल के प्रबंधक शिवनंदन यादव ने बताया कि स्कूल के बच्चों के पुस्तक की शिक्षा के साथ-साथ उनके सर्वांगीण विकास पूरा-पूरा ध्यान दिया जाता है बच्चों के शारीरिक विकास के साथ-साथ उत्तम आचरण धारण करने पर विशेष बल दिया जाता है स्कूल में साप्ताहिक यज्ञ के माध्यम से पर्यावरण शुद्ध एवं आध्यात्मिक उन्नति का प्रयास किया जाता है|

स्कूल के प्रधानाचार्य आर्य अनिल शर्मा ने बताया कि स्कूल में बच्चों की पढ़ाई के लिए सुयोग अध्यापक की नियुक्ति की गई है  तथा विद्यार्थी अध्यापक अनुपात 35:1का रखा जाता है जिसमें प्रत्येक विद्यार्थी पर व्यक्ति ध्यान दिया जा सके इसके परिणाम स्वरूप पिछले अनेक वर्षों से स्कूल का परिणाम शत प्रतिशत रहा है तथा स्कूल प्रगति के पथ पर आकर्षित है। सिटी कान्वेंट सेकेंडरी स्कूल अपने क्षेत्र के अनूठो स्कूलों में आता है।

स्कूल के सीनियर अध्यापक माला सिंह ने बताया स्कूल में बच्चे पढ़ाई में कुछ पीछे रह जाते हैं उनके लिए समय-समय पर अतिरिक्त कक्षाएं लगाई जाती हैं का आर्थिक रूप से पिछड़े विद्यार्थियों को पुस्तक कॉपी ड्रेस निशुल्क दी जाती है योग्य विद्यार्थियों की फीस माफ की जाती है। कार्यक्रम के अंत में स्कूल के प्रबंधन समिति द्वारा अध्यापकों का सम्मानित किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Translate »